दोस्तों इस आर्टिकल में हम बात करेंगे कि Assembly Line Balancing kya hai और Line Balancing in Hindi क्या है इसके साथ ही हम जानेंगे कि लाइन बैलेंसिंग करने का क्या उद्देश्य क्या है और लाइन बैलेंसिंग करने के क्या क्या फायदे हैं।

Line Balancing क्या है? (line Balancing In Hindi)

दोस्तों अगर बात करें कि लाइन balancing क्या है तो मैं आपको उदाहरण से समझाता हूँ की असल में लाइन बैलेंसिंग क्या है?
Line balancing kya hai (line balancing in hindi)

तो मान लीजिये आप एक कंपनी के काम करते हैं और वहां पर आपके गाड़ी की लाइट बनती है अब अगर बात करें की लाइट कैसे बनती है तो मैं आपको बता दूँ की एक लाइट को बनाने के लिए उसके बहुत सारे छोटे छोटे पार्ट्स को Assemble करना पड़ता है तब जाकर एक लाइट का निर्माण होता है और लाइट बनाने की एक असेंबली लाइन में कम से कम 10 लोग काम करते है और एक दिन में 400 लाइट बनाते हैं।

अब मान लीजिये की ये दस लोग एक दिन में 400 लाइट बनाने के बजाय 40 लाइट ही बनाये तो क्या होगा? तो मैं आपको बता दूँ की इसमें केवल कंपनी का नुक्सान होगा और इसी नुकसान और असेंबली लाइन में काम करने वाले कर्मचारियों की एफिशिएंसी बढ़ाने के लिए लाइन बैलेंसिंग किया जाता है।

लाइन बैलेंसिंग करने से एक प्रोडक्ट को बनाने में लगने वाला टाइम कम हो जाता है जिससे प्रोडक्ट की कीमत काम हो जाती है।

Objective of  Line Balancing 

अगर बात करें लाइन balancing के मुख्य उद्देश्य की तो इसका मुख्या उद्देश्य असेंबली लाइन के सभी वर्क स्टेशन के ऑपरेशन के प्रोसेसिंग टाइम को एक सामान करना है जिससे लाइन के सभी वर्क स्टेशन पर साइकिल टाइम सामान रहे।
अगर बात करें की लाइन बैलेंसिंग करने के क्या लाभ हैं- 
  1. प्रोडक्शन रेट एक सामान रहता है।
  2. वर्क प्रोसेस काम होती है।
  3. प्रोडक्शन कण्ट्रोल सरल होते हैं।

मान लीजिये की आपकी असेंबली लाइन में दस स्टेप है और उनमें से पहले की 6 स्टेप बहुत तेज है पर सातवीं स्टेप धीमी है जिससे सातवीं स्टेप के आगे वाले वर्क स्टेशन खाली रहते है

Line balancing kya hai (line balancing in hindi)

 और उससे प्रोडक्शन loss होता है और उस loss को खत्म करने के लिए सातवें वर्क स्टेशन पर एक ही स्टेप के लिए दो वर्कस्टेशन लगाए गए जिससे प्रोडक्शन loss काम हुआ और इसी को हम लाइन बैलेंसिंग कहते हैं क्युकी यहाँ पर लाइन बैलेंसिंग करने से ही हम प्रोडक्शन लोस्स को काम कर पाए।

Line Balancing के लाभ

दोस्तों line balancing करने के कई सारे लाभ हैं जैसे की इसका सबसे बड़ा लाभ यही है की line Balancing करने से प्रोडक्शन कॉस्ट कम हो जाती है साथ ही साथ काम समय में आप ज्यादा प्रोडक्शन कर सकते हैं। लाइन बैलेंसिंग एक बहुत ही अच्छा method है जिससे आप अपने प्रोडक्शन को बढ़ा सकते हैं। 

Important Terms In Line Balancing

Work Station

Work station वो स्थान है जहाँ पर कुछ कार्य किया जाता है जैसे असेंबली लाइन में एक जगह पर वेल्डिंग होती है दूसरी जगह पर ग्राइंडिंग होती है ये दोना अलग अलग वर्क स्टेशन हैं और यहाँ पर अलग अलग लोग काम करते हैं।

Cycle Time

दो फाइनल प्रोडक्ट्स के फाइनल प्रोडक्ट बनकर निकलने के बीच लगने वाले समय को साइकिल टाइम कहते हैं।

Conclusion

दोस्तों इस आर्टिकल में आपको लाइन बैलेंसिंग के बारे में पता चल गया होगा कि Line Balancing Kya hai और Line Balancing In Hindi क्या है। दोस्तों अगर आपको ये आर्टिकल अच्छा लगा तो तो आप अपने दोस्तों के साथ इसे जरूर शेयर करें।

इसे भी पढ़ें: welding kya hai

Post a Comment

नया पेज पुराने