GOOGLE AD UNIT

 इस ब्लॉग में आप जिला उद्योग केंद्र के बारे में जानेंगे की जिला उद्योग केंद्र क्या होता है? और इसकी क्या विशेषताएं हैं?

District Industries Centre को हिंदी में जिला उद्योग केंद्र कहते हैं। देश के बेरोजगारों को अधिक से अधिक रोजगार देने के लिए भारत सरकार के द्वारा 1978 में जिला उद्योग केंद्र की शुरुआत की गई। जिला उद्योग केंद्र का मुख्य उद्देश्य लघु, कुटीर और गांव के अन्य छोटे उद्योगों को बढ़ाकर रोजगार उत्पन्न करना है। 

जिला उद्योग केंद्र जिला स्तर की एक संस्था है, जो सूक्ष्म, लघु, और उद्यम स्थापित करने के लिए उद्यमी को सभी सेवाएं और सुविधाएं प्रदान करता है। इसका मुख्य कार्य उपयुक्त योजनाओं की पहचान करना, ऋण सुविधा उपलब्ध करना, मशीनरी की व्यवस्था करना, कच्चे माल की व्यवस्था करना आदि शामिल है. जिला उद्योग केंद्र नया उद्योग शुरू करने में लगने वाले सभी प्रकार के पंजीकरण में सहायता प्रदान करता है. 

जिला उद्योग केंद्र ,district industries center, district industries center in up
जिला उद्योग केंद्र


जिला उद्योग केंद्र का अर्थ एवं परिभाषा meaning and definition of district industries centre

What is D.I.C.? जिला उद्योग केंद्र की परिभाषा 

क्या है जिला उद्योग केंद्र ?

जिला उद्योग केंद्र जिला स्तर की एक संस्था है। यह अपने जिले के सभी उद्द्यमियों को वित्त की एक साख, तकनीकी परामर्श, मार्केटिंग सुविधाएं, व विभिन्न सहकारी सुविधा एक ही स्थान पर उपलब्ध करवाती हैं। इसलिए इसे 'एक खिड़की की विचारधारा' की संज्ञा दी जाती है। यह केंद्र लघु उद्योगों को विकसित करने में सहयोग प्रदान करने वाली अन्य संस्थाओं एवं निगम जैसे वित्त निगम (finance corporation) , directorate of industries, industrial development and investment corporation , small industries corporation, khadi and gramodyog board , आदि के साथ मिलकर  उद्यमिको के विकास के लिए कार्य करता है।

जिला उद्योग केंद्र की मुख्य परिभाषा निम्न है

बसंत देसाई के अनुसार जिला उद्योग केंद्र की परिभाषा
"जिला उद्योग केंद्र एक जिलास्तरीय संस्था है जो उद्यमियों को सभी सेवाएं एवं सुविधाएं एक ही स्थान पर उपलब्ध कराती है ताकि वे अपने लघु एवं कुटीर उद्योगों की स्थापना कर सकें।"
Dr एम एन उपाध्याय के अनुसार जिला उद्योग केंद्र की परिभाषा
"जिला उद्योग केंद्र का आशय एक ऐसी संस्था से है जो उद्यमियों को सभी सेवाएं एवं सुविधाएं एक ही चैट के नीचे उपलब्ध कराती है।"

जिला उद्योग केंद्र की विशेषता characteristics of district industries center D.I.C.

जिला उद्योग केंद्र की मुख्य विशेषताये निम्नलिखित हैं
1. शीर्ष संस्था Apex Body
जिला उद्योग केंद्र जिला स्तर की एक शीर्ष संस्था होती है। इसका प्रशासनिक भवन जिले के मुख्यालय में स्थित होता है।
2. केंद्रीय एवं समन्वयकारी संस्था central and co ordinational role
जिला उद्योग केंद्र लघु उद्योगों को सहायता पहुचाने वाली अन्य संस्थाओं के साथ मिलकर काम करते हैं। इस प्रकार इनकी स्थिति जनपद स्तर पर केंद्रीय एवं समन्वय कारी भूमिका निर्वहन करने वाली होती है।
3. क्रियान्वयन करने वाली संस्था executive body
जिला उद्योग केंद्र, केंद्रों द्वारा उद्यमियों को सहायता पहिचाने के साथ-साथ उद्यमियों को प्रशिक्षित करने व बेरोजगारी समाप्त करने के लिए केंद्र व राज्य सरकार द्वारा चलाये जा रहे विभिन्न कार्यक्रम का क्रियान्वयन व संचालन आदि करने का भी कार्य किया जाता है।
4. विकासात्मक संस्था development body
जिला उद्योग केंद्रों द्वारा औद्योगिक दृस्टि से पिछड़े छेत्रों, कृषि क्षेत्रों आदि को औद्योगिक क्षेत्रों में विकसित कराने का कार्य भी करता है।

जिला उद्योग केंद्र के कार्य 

  • जिला उद्योग केंद्र जिले में रोजगार को बढ़ावा देने के लिए हर संभव प्रयास करता है. जिला उद्योग केंद्र उद्यमों के विकास के प्रशिक्छण के लिए योजनाएं तैयार करता है। 
  • जिला उद्योग केंद्र निवेश कार्यों के लिए उद्यमियों को सहायता प्रदान करता है। 
  • उद्योगों को कच्चे माल की उपलब्धता के लिए जानकारी प्रदान करता है। 
  • उद्योगों को लाइसेंस प्रदान करने के लिए सहायता प्रदान करता है। 
  • छोटे पैमाने के उद्योगों को Registration करवाने के लिए सहायता प्रदान करता है। 
  • निवेश कार्यो को करने के लिए जिला उद्योग केंद्र उद्यमियों को सहायता प्रदान करता है। 

Post a Comment

और नया पुराने